आदमी कितना भी व्यस्त क्यों न हो

आदमी कितना भी व्यस्त क्यों न हो
फिर भी बाजू से जाती हुई,

खूबसूरत लड़की को देखने के लिये.
वो टाईम तो निकाल ही लेता है

इसे कहते है इंसानियत…

कृपया कमजोर दिल वाले इसे न पढ़े

कृपया कमजोर दिल वाले इसे न पढ़े

खिड़की से देखा तो सामने कोई नहीं था

खिड़की से देखा तो सामने कोई नहीं था…

फिर सामने से देखा तो खिड़की में कोई नहीं था…

मेरी पत्नी सिर्फ छिपकली से ही डरती है

दिलीप:- तू अगले जन्म में क्या बनना चाहता है ?
.
.
.
दीपक:- छिपकली।
.
.
.
दिलीप:- क्यों क्यों?
.
.
.
दीपक:- क्योंकि मेरी पत्नी सिर्फ छिपकली
से ही डरती है।

4 दिन तक अस्पताल में भर्ती रहा

राजू:- तुम्हें पता है;
28 साल तक मेरे कोई औलाद नहीं हुई।
.
.
.
पप्पू:- तो फिर तूने क्या किया ??
.
.
.
राजू:- फिर मैं 28 साल का हुआ और
घरवालों ने मेरी शादी करवाई;
तब कहीं जाकर बेटा हुआ।
.
.
.
पप्पू 4 दिन तक अस्पताल में भर्ती रहा।

इतना खुश क्यों हो रहा है

चंदू:- इतना खुश क्यों हो रहा है ??
.
.
.
लल्लू:- आज मेरी एक्स गर्लफ्रेंड मिली थी।
.
.
.
चंदू:- तो क्या हुआ ??
.
.
.
लल्लू:- उसके बच्चों ने मुझे मामा
नहीं चाचा कहा। 🙂 🙂 🙂

सगाई और शादी के बीच कुछ दिन का

राजू:- सगाई और शादी के बीच कुछ दिन
का अंतराल क्यों रखा जाता है ??
.
.
.
.
.
पप्पू:- ताकि कोई यह न कह सके कि
मुझे हादसे से बचने का मौका नहीं दिया गया।

रात को तू अचानक उठा और फिर सो गया

मोनू:- रात को तू अचानक उठा
और फिर सो गया। क्यों ??
.
.
.
.
.
मुन्नी:- रात को मुझे सपना आया कि
सुबह 4:30 बजे उठना चाहिए लेकिन
फिर विचार आया कि नींद में इतना बड़ा
निर्णय लेना ठीक नहीं है।