तुम Paidal क्यों आ रहे हो

लड़की:- तुम Paidal क्यों आ रहे हो
Auto से आना चाहिये था न…

लड़का:- तुमने ही तो कहा था धीरे-धीरे
से मेरी जिंदगी में आना…

एक मोटरसाइकिल वाले ने पता पूछने

एक मोटरसाइकिल वाले ने पता पूछने के लिए संता से पूछा…

Excuse me,,, मुझे “लाल किला” जाना है…?

संता – तो जा ना भाई, ऐसे हर किसी को बताते-बताते जायेगा
तो पहुचेगा कब…?

संता और बंता शराब के नशे में धुत्त होकर

संता और बंता शराब के नशे में धुत्त होकर
रेल की पटरियों के बीचों-बीच जा रहे थे…

संता :- हे भगवान, मैंने इतनी सीढ़ियां पहले कभी नहीं चढ़ीं

बंता :- अरे सीढ़ियाँ तो ठीक हैं, मैं तो इस बात को लेकर हैरान हूं
कि हाथ से पकड़ने के लिए रेलिंग कितने नीचे लगी हुई हैं…

संता रोटी का एक निवाला खुद खा रहा था

संता रोटी का एक निवाला खुद खा रहा था
और एक पास बैठी मुर्गी को खिला रहा था…

बंता : – “ये क्या कर रहा है ?”

संता : – “चिकन के साथ रोटी खा रहा हूँ”

हरयाणवी ताऊ खाट पे लेटा था

हरयाणवी ताऊ खाट पे लेटा था

घरवाली आई और सीने से लग के बोली –

अब तुम प्यार भी नहीं करते
..
..
..
..
ताऊ – परे नै हट जा मेरी बीड़ी तोड़ेगी के

मास्टर ने पूछा- कविता और निबंध में क्या अंतर है

मास्टर ने पूछा- कविता और निबंध में क्या अंतर है..??
स्टूडेंट- प्रेमिका के मुंह से निकला एक शब्द भी कविता होता है
और पत्नी का एक ही शब्द निबंध के समान होता है..

मास्टर के आंख में आंसू आ गए, गला भर आया..
उन्होने उस लड़के को क्लास का मानीटर बनाया।

एक टीचर ने बच्चे से पूछा

एक टीचर ने बच्चे से पूछा :- स्कूल क्या है ….??
बच्चे ने जवाब दिया :- स्कूल वो जगह है..
जहाँ पर हमारे पापा को लूटा जाता है और हमें कूटा जाता है..

Pappu Ek Bar Ek Ladki Ke Piche Hath Do Ke Padd Gaya

Pappu Ek Bar Ek Ladki Ke Piche Hath Do Ke Padd Gaya,
Aur Usko Patane Ke Liye Kuch Na Kuch Karta Rahta Tha

Ek Din Ladki Ne Tang Aakar Usko Pass Bulaya Aur Boli.

Ladki -“Mere Piche Tum Apni Jindgi Barbaad Mat Karo”

Pappu – “Kyun?”

Ladki -“Is Raste Mein Pathar Aur Kanton Ke Alawa Kuch Nahi Milega”

Pappu – “Are Pagli, Mere Paas Reebok Ke Shoes Hai Na”